0



बड़ अजगुत भेल )2 गौरा तोर अँगनमा 
सुनू-सुनू गमकए )2 आइ पूरी पकनमा 

बड़ अजगुत भेल ) 2 गौरा तोर अँगनमा 
सुनू-सुनू गमकए ) 2 आइ पूरी पकनमा 

गौरा के एलह आइ तोर अँगनमा ) 2
देखू-देखू गमकए आइ पूरी पकनमा ) 2
कोन दिस गौरा आइ ) 2 उगलाह सूरज 
कि बिसरल हम तोर अँगनमा
बड़ अजगुत भेल ) 2 गौरा तोर अँगनमा 
सुनू-सुनू गमकए ) 2 आइ पूरी पकनमा 


सुनू सखी सुनू-सुनू )2
नहि अहाँ बिसरल, आइ हमर अँगनमा 
ओ नहि गमकए ) 2 आइ पूरी पकनमा 
लएलाह भोला आइ)2 भाँगक पुआ 
देलकन्हि हुनकर मनु भक्त दूलरुआ 
ओकरे जे रखिते ) 2 एलहुँ हे अहाँ 
आकरे ई गमक छी हे सखी सुनूने 

बड़ अजगुत भेल ) 2 गौरा तोर अँगनमा 
सुनू-सुनू गमकए ) 2 आइ पूरी पकनमा 

मिथिला दैनिक क' समाचार ईमेल द्वारा प्राप्त करि :

Delivered by Mithila Dainik

मिथिला दैनिक (पहिने मैथिल आर मिथिला) टीमकेँ अपन रचनात्मक सुझाव आ टीका-टिप्पणीसँ अवगत कराऊ, पाठक लोकनि एहि जालवृत्तकेँ मैथिलीक सभसँ लोकप्रिय आ सर्वग्राह्य जालवृत्तक स्थान पर बैसेने अछि। अहाँ अपन सुझाव संगहि एहि जालवृत्त पर प्रकाशित करबाक लेल अपन रचना ई-पत्र द्वारा mithiladainik@gmail.com पर सेहो पठा सकैत छी।

 
#zbwid-2f8a1035