गाडीक पहिया नर आर नारी@प्रभात राय भट्ट - मिथिला दैनिक

Breaking

रविवार, 9 अक्तूबर 2011

गाडीक पहिया नर आर नारी@प्रभात राय भट्ट



गाडीक पहिया नर आर नारी--------1
एक पहियामे हवा भरल 
दोसर पहिया पंचर परल 
जाधैर पंचर नै टलबैय   
कहू कोना गाड़ी चल्तैय

गाडीक पहिया नर आर नारी--------2  
सब कहैछी बेट्टाबेट्टी एक सामान
फेर बेट्टी किये होईय अपमान
बेट्टा इंग्लिश स्कुल में पढैय
बेट्टी किये बकरी पठरु चरबैय

गाडीक पहिया नर आर नारी---------३
बेट्टा पेन्हैय सुट सफारी
बदेल बदेल चढैय मोटर गाड़ी
बेट्टी पेन्हैय फाटल अंगी साड़ी
बारीमे उब्जबैय तिमन तरकारी

गाडीक पहिया नर आर नारी-----------४
बेट्टा खैय मिट मछली खुआ मलाई
आ घुटुर घुटुर दूध पिबैय
बेट्टी खैय सुखल रोटी पैर नून मिरचाई
आ टुकुर टुकुर माएक मुह ताकैय

गाडीक पहिया नर आर नारी------------५
बेट्टा सुतैय पलंग माएक छाती संग
बेट्टी सुतैय बिछाक पटिया बकरीपठरु संग
बेट्टा पैर लुटबैय माए बाबु अपन ममता
माए बाबु संग सूती बेट्टी के लागल सेहनता

गाडीक पहिया नर आर नारी------------६
दलानमें बैठ बेट्टा खेलैय जुआ तास
एसगर चौरीचांचरमें बेट्टी कटैय घास
भोरे सूती उठी बेट्टी बनाबैय भानस
खानामे  देर हुए ते सब देख्बैय तामस
रचनाकार:-प्रभात राय भट्ट