1
चुनचुन मिश्रजीक पार्थिव शरीर एखन धू - धूक रहिकामे जरि रहल हेतैन्ही

१९४२मे क्रान्तिगर्भसँ जनमल चुनचुन आजीवन संघर्ष करैत रहलाह aa ३.२.२०१० सँ मिथिला राज्य संघर्ष समितिक अध्यक्ष छलाह जखन वयोवृद्ध जयकांत मिश्र स्वर्गीय भेलाह एक सपना मिथिला राज्यक लेने जे चुनचुनजीक संग सेहो गेलैन्ही

एहि मैथिलीपुत्रक सपना हमसभ साकार करी

१९९२मे जखन बी पी एस सी सँ मैथिली निकालल गेलीह हम मैथिली कार्यकर्ता बनलहूँ

ओहि समय एक अख़बारमें नाम पढ़लंहू जे छात्र नेता चुनचुनजी दिल्लीमे आमरण अनशन पर छथि

१५ .१० .१९९३ क साँझमे भगवती स्थान कोइलख पर हम हुनका पहिल बेर देखलियेन्ही – हमरा दोसर दिन १३२ किलोमीटरक जागरण पदयात्रा पर निकलक छल

चुनचुनजीके देखि अवाक् रहलन्हु जे ओ छत्र केना?

१७ .१० . १९९३ क रहिका चौक पर एक विशाल जनसभामे हमर भाषण ओ आयोजित केलाह जे मिथिलामे मैथिली लेल हमर पहिल भाषण छल

ओ हमरास १२ वर्ष ज्येष्ठ छलाह मुदा सदैव एक कार्यकर्त्ता जकां रहलाह १९९४ क साइकिल यात्रा बाद हम किछु मिनट लेल अपन गाम गेलंहु आ हुनका सीधा सकरी स्टेशन हमर झोरा ले पन्हुचय कहलियैन

सकरी में ओ कहलाह जे सोसिअलिस्ट पार्टी में हुनका बतावल गेल छलन्हि जे नेताक रक्षा पहिने आ तैं हम जाबैत हुनक क्षेत्र स सुरक्षित नहि निकलि जाइत छि ई हुनक ड्यूटी छलनि

ओ हमरा स ज्येष्ठ आ हम हुनक नेता केना ?

मुदा ओ सदैव जे कहियेन्ही करैत रहलाह, संभवतः हुनका हमरास बहुत अनावश्यक अपेक्षा रहल होइंहि जकर पात्र हम नहि छलन्हू !

मिथिला में अबैत - जाएत हम हुनका स भेंट करैत छलन्हू मुदा एहि पिछला यात्रामे १७ .१० .२०१० क रहिका स हम रातिमे क्रोस केलंहू मुदा धुलियान पकडक चक्करमे नहि रुकि पयलहूँ , आ आब कहियो भेंट नहिये होयत

१९९३ में परिचायक बाद भेल दोसर अन्तरराष्ट्रीय मैथिली परिषदक द्वारा आयोजित अन्तरराष्ट्रीय मैथिली सम्मलेन स प्रायः सब सम्मेलनमे हुनक उपस्थिति रहैत छलन्हि

मुदा जहिया १९म अन्तरराष्ट्रीय मैथिली सम्मलेन काठमंदुमे मुख्य अतिथि प्रधानमत्री पुष्प दहल प्रचंड द्वारा हुनका सम्मानित हेबाक छलन्हि ओ अनुपस्थित छलाह कोनो विशेष कारण स



याद अछी ओहि राति कांतिपुर FM में हमर लाइव इंटरविएवु लैत उद्घोषिका रूपा चुनचुनजिक सम्मानसूचीमे नाम बतवैत कह्मे छलथि - हुनक एहेन मोट- शोट गोलमोल काया छनि मुदा छथि मिथिलाक कोनो काज लेल बहुत फुर्तीला ?



आब दिसम्बर १०क दिल्लीक जन्तर मंतर परहक़ धरना चुनचुनजी बिना कोना होयत जिनका देखिते थानावाला चीन्ही जैत छलनही जे आबी गेलमिथिलाक धरनावाला

आ मुंबई क ९ -१० जनवरिक २२म अन्तरराष्ट्रीय मैथिली सम्मलेन आ जयनगर क अप्रैल २०११ क तेइसम अन्तरराष्ट्रीय मैथिली सम्मेलनमें हुनक शुन्यता रहत जे भरल नहि जा सकैत अछि

मिथिला राज्य संघर्ष समितिक महासचिव प्रोफ. उदयशंकर मिश्र मोबाइल पर कहलाह जे नोवेम्बर २८क दरभंगामे ओ एक विशाल संकल्प सभा आयोजित करताह



अन्तरराष्ट्रीय मैथिली परिषद्क केंद्रीय अध्यक्ष डॉ . कमलकांत झा , अखिल भारतीय मिथिला पार्टीक महासचिव डॉ . बुचरू पासवान , सेंट्रल इलेक्शन कोम्मित्ती क कामेश्वर यादव आदि रहिका पँहुचल हेताह .

अन्तरराष्ट्रीय मैथिली परिषद्क परिवार मर्माहित अछि आ माँ मैथिलीस प्रार्थना जे मैथिलिपुत्र चुनचुनजी अपन चरण कमलमे सुरक्षित स्थानमे जगह देथूंह .



डॉ .धनाकर ठाकुर

प्रवक्ता , अन्तरराष्ट्रीय मैथिली परिषद्

९४३०१४१७८८, ९४७०१९३६९४

मिथिला दैनिक क' समाचार ईमेल द्वारा प्राप्त करि :

Delivered by Mithila Dainik

मिथिला दैनिक (पहिने मैथिल आर मिथिला) टीमकेँ अपन रचनात्मक सुझाव आ टीका-टिप्पणीसँ अवगत कराऊ, पाठक लोकनि एहि जालवृत्तकेँ मैथिलीक सभसँ लोकप्रिय आ सर्वग्राह्य जालवृत्तक स्थान पर बैसेने अछि। अहाँ अपन सुझाव संगहि एहि जालवृत्त पर प्रकाशित करबाक लेल अपन रचना ई-पत्र द्वारा mithiladainik@gmail.com पर सेहो पठा सकैत छी।

 
#zbwid-2f8a1035