2
हमर करम तहिए फुटल
जे कनियाँ भेल कारी
एशनो पाउडर सेन्ट लगाकs
बने हेमा मालिनी

करियोकें निक नहि कहबै त
ई नइ होएत समझदारी
काम धाम के नाम पर हुनका
भsजाइ छनि बिमारी

गाम - गामकें नोतपुरीमें
संगे जाएत हमर कनियाँ
पाहून - परक जौ आएत त
नहि उठाएत ओ बड़का हँड़िया

देह दुखाइए, माथ दुखाइए
करत नहि आइ भन्सा
साढ़े आठ बाजिगेल त
देखs चलिगेल चन्द्रकान्ता

निक - बेजाए सुन बियौ नइ
नइ त पढ़ती ओ हमरा गाइर
चुपचाप भानस बनाबs परैए
नहि त खाहु पड़त माइर

तलब छुटल त देलियनि हुनका
ख़ुशी भsकहली हमरा निक लड़का
साड़ी आ मिठाई लाबिदेली तखन
हटोली ओ नजदीकसँ सटका

फिल्म बदलल त देखाबsजाउ
कोक - नास्तामें सय-दु सय गुमाउ
रिक्सा चैढीकs आउ आ जाउ
घरमें अपनेसँ भानस बनाउ

कारी अक्षर भैंस बराबर
सुनती समाचार अंग्रेजीमें
कनियाँ नहि म्याडम कहु
त इज्जत रहत हिप्पीकें

औठा छाप भइयोकs
कलम चाही स्टेनडर
बज्जर खसुवा - मसोरुवा
सुनिकs बाहरैछी घर

दहेजक लोभमें बाबुजी
कनियाँ कsदेलैथ कारी
अखन त हम राम बनलछी
बादमें बनब महाराजी
 
 
 
सन्तोष कुमार मिश्र
जनकपुर - ७, धनुषा/हाल: सानेपा - ३, ललितपुर, काठमाण्डू, नेपाल ईमेल: santosh.mishra101@gmail.com

मिथिला दैनिक क' समाचार ईमेल द्वारा प्राप्त करि :

Delivered by Mithila Dainik

  1. Santoshji...

    Apnek kavita bahut nik lagal ahina likhait rahu...

    Jay Maithili, Jay Mithila...

    उत्तर देंहटाएं
  2. Bahut nik prastuti Santosh ji...

    Apnek pahil ke prastuti Posput hamra bahut pasand bhel...

    उत्तर देंहटाएं

मिथिला दैनिक (पहिने मैथिल आर मिथिला) टीमकेँ अपन रचनात्मक सुझाव आ टीका-टिप्पणीसँ अवगत कराऊ, पाठक लोकनि एहि जालवृत्तकेँ मैथिलीक सभसँ लोकप्रिय आ सर्वग्राह्य जालवृत्तक स्थान पर बैसेने अछि। अहाँ अपन सुझाव संगहि एहि जालवृत्त पर प्रकाशित करबाक लेल अपन रचना ई-पत्र द्वारा mithiladainik@gmail.com पर सेहो पठा सकैत छी।

 
#zbwid-2f8a1035