1

आचार्य रमानाथ झा रचनावली (पाँच खण्डमे)भारतीय भाषा संस्थानक सहयोगसँ वाणी प्रकाशन द्वारा प्रकाशित भऽ गेल अछि। एहिमे स्वर्गीय रमानाथ झाक मैथिली, हिन्दी, इंग्लिश आ संस्कृत लेखनकेँ एक ठाम समेटबाक प्रयास कएने छथि संकलनकर्ता-सम्पादक श्री मोहन भारद्वाज।
एहिमे पहिल खण्डमे विद्यापति
दोसर खण्डमे मैथिली साहित्य
तेसर खण्डमे मिथिला ओ मैथिली
चारिम खण्डमे विविध
आ पाँचम खण्डमे संस्कृत रचना
देल गेल अछि। स्वर्गीय रमानाथ झा जीक रचना सभ बड्ड दिनसँ अनुपलब्ध छल । एहि रचनावलीक सम्पूर्ण सेट रु.५०००/- मे उपलब्ध अछि।
पुस्तक प्राप्ति स्थान:
वाणी प्रकाशन, ४६९५,२१-A,दरियागंज, नई दिल्ली-११०००२
वाणी प्रकाशन, अशोक राजपथ (पटना कॉलेजक सोझाँ), पटना (बिहार)

मिथिला दैनिक क' समाचार ईमेल द्वारा प्राप्त करि :

Delivered by Mithila Dainik

मिथिला दैनिक (पहिने मैथिल आर मिथिला) टीमकेँ अपन रचनात्मक सुझाव आ टीका-टिप्पणीसँ अवगत कराऊ, पाठक लोकनि एहि जालवृत्तकेँ मैथिलीक सभसँ लोकप्रिय आ सर्वग्राह्य जालवृत्तक स्थान पर बैसेने अछि। अहाँ अपन सुझाव संगहि एहि जालवृत्त पर प्रकाशित करबाक लेल अपन रचना ई-पत्र द्वारा mithiladainik@gmail.com पर सेहो पठा सकैत छी।

 
#zbwid-2f8a1035