कोसी केर कछार सँ राष्ट्रीय स्तर केर राजनीति मे पहुंचला मिथिलाक लाल मनीष कुमार - मिथिला दैनिक

Breaking

सोमवार, 4 दिसंबर 2017

कोसी केर कछार सँ राष्ट्रीय स्तर केर राजनीति मे पहुंचला मिथिलाक लाल मनीष कुमार

सहरसा। 04 दिसम्बर। [राहुल कुमार झा] भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन एनएसयूआई के राष्ट्रीय सचिव बनला मिथिलाक लाल मनीष कुमार। 7 बरख बाद बिहार केँ कोनो छात्र नेता क' राष्ट्रीय पदाधिकारीक रूप मे राष्ट्रीय कमिटी मे स्थान प्राप्त करबाक गौरव हासिल भेलनि। 


अपने क' बता दी एनएसयूआई केर राष्ट्रीय संरक्षक एवं कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गाँधी द्वारा नवा राष्ट्रीय अध्यक्ष केर नियुक्ति जुलाई मे कायल गेलाक बाद पुरनका राष्ट्रीय कमिटी क' भंग करी नवा कमिटी बनेबाक लेल प्रक्रिया चालु कायल गेल छल जाहिमे पूरा देश सँ राष्ट्रीय कमिटी के लेल राखल गेल योग्यता केर अनुरूप 243 छात्र नेता क' जवाहर लाल नेहरू लीडरशिप इंस्टीट्यूट केर साक्षात्कार टीम द्वारा चुनिकेँ एनएसयूआई केर संरक्षक राहुल गांधी एंव राष्ट्रीय प्रभारी गिरीश जी आओर रूचि गुप्ता क' देल गेल।फेर राष्ट्रीय प्रभारी, राष्ट्रीय अध्यक्ष आओर चुनाव आयोग द्वारा लगातार चारि राउंड मे साक्षात्कार लेल गेल जाहिके फाइनल राउंड के बाद 68 छात्र नेता केर नामक सहमती राष्ट्रीय कमिटी के लेल एनएसयूआई केर संरक्षक राहुल गाँधी देलनि। 

जाहिमे बिहार सँ सात बरखक बाद सहरसा जिलाक अंतर्गत महिषी प्रखंड के महिषरहो पंचायतक पूर्व पंचायत समिति सुधीर यादव के पुत्र मनीष कुमार राष्ट्रीय सचिव पद प्राप्त करबा मे सफल भेला। मनीष कुमार बीएन मंडल विश्वविद्यालय मधेपुरा सँ एलएलबी फाइनल के छात्र छथि। मनीष बरख 2009 मे सहरसा के एमएलटी काॅलेज अध्यक्ष के रूप मे अप्पन छात्र राजनीति शुरू करी राजनीति मे प्रवेशक पहिले बरख मे छात्र सभक समस्या पर कैको चर्चित आंदोलन केलनि,  जाहिसँ एमएलटी काॅलेज सहरसा मे आइसीआर शुल्क वापसी आंदोलन मे काॅलेज प्रशासन केँ द्वारा कायल गेल मुकादमा मे बरख 2011 मे मनीष कुमार क' ढाई मासक लेल  जेल सेहो जाय पड़लनि। 

जेल गेलाक बादो मनीष हार नहि मानला आओर लगातार छात्र सभक हितक रक्षा लेल आवाज उठबैत रहला। ओतहि बरख 2015 मे बीएनएमयू मे स्नातक के छात्र सभक गृह जिला परीक्षा केन्द्र ल'के विश्वविद्यालय मे ऐतिहासिक आंदोलन आओर 2016 मे बीएड प्रवेश परीक्षा घोटाला, एवं  बीएनएमयू मे व्याप्त शैक्षणिक अराजकता केर खिलाफ 3 मासक  आंदोलन मे लगातार 2 बेर 15 दिन आओर 17 दिन केर अनिश्चितकालीन आमरण अनशन करी "बीएनएमयू बचाओ" आंदोलन केर नाम सँ चर्चित भेल आंदोलन बिहार मे छात्र राजनीति के गलियारा मे हलचल मचबैत  बिहार स्तर पर मनीष कुमार क' पहिचान देलनि। 

मनीष कुमार लगातार 3 बेर प्रदेश स्तरीयसांगठनिक आंतरिक चुनाव मे क्रमश: 2012 मे प्रदेश सचिव 2015 प्रदेश महासचिव आओर 2017 मे राष्ट्रीय प्रतिनिधि पद पर जीत हासिल करी राष्ट्रीय छात्र राजनीति मे दस्तक देलनि आओर राष्ट्रीय नेतृत्व द्वारा दिल्ली विश्वविद्यालय छात्र संघ चुनाव मे बतौर लाॅ फैकल्टी प्रभारी के जिम्मेदारी क' निभा डूसू  चुनाव मे एनएसयूआई केर जीत मे महत्वपूर्ण भूमिका निभेलनि। 

आब राष्ट्रीय सचिव केर रूप मे भेटल नवा जिम्मेदारी पर मनीष कुमार कहलनि कि देशक वर्तमान समय मे छात्र आओर शिक्षा के हालात क' देख ई जिम्मेदारी नही बल्की एक बड़का चुनौती अछि आओर ई चुनौतीपूर्ण जिम्मेदारी क' हम संघर्षक दम पर पूरा देश मे छात्र हितक सवाल पर लड़ाई लड़िकेँ एक मिशाल कायम करबाक प्रयास करब आओर मिथिलांचल समेत सगर बिहार के स्वाभिमान क' बढ़ेबाक कोशिश करब।

मनीष कुमार क' राष्ट्रीय टीम मे जगह भेटला पर एआईसीसी केर सदस्य डाॅ. अरूण कुमार बिहार प्रदेश कांग्रेस कमिटी के महासचिव केसर कुमार सिंह, सचिव मनीष यादव, युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव तौकिर आलम एनएसयूआई के पूर्व सहरसा जिला अध्यक्ष सुदीप कुमार सुमन, कांग्रेस नेता एसके सौरव, एनएसयूआई के मधेपुरा जिला अध्यक्ष निशांत यादव, गौरव गुप्ता, विराज कश्यप, सुरज झा, रूपेश रंजन आलोक जयसवाल, नीरज यादव पंकज यदुवंशी, सन्नी ठाकुर आदी हुनका बधाई देलनि।