अलग मिथिला राज्य केर मांग लेल एक दिवसीय धरना प्रदर्शन - मिथिला दैनिक

Breaking

शनिवार, 16 दिसंबर 2017

अलग मिथिला राज्य केर मांग लेल एक दिवसीय धरना प्रदर्शन

दिल्ली। 16 दिसम्बर।[मिहिर कुमार झा 'बेला'] दिल्ली - एनसीआर के संसद मार्ग पर अलग मिथिला राज्य केर मांग लेल कैल्हि शुक्र दिन एक दिवसीय धरना प्रदर्शन किया गेल। तेलंगाना क' अलग राज्य केर दर्जा देबाक घोषणा केँ बाद मिथिलावासी सेहो मिथिलांचल क' अलग राज्य बनेबाक मांग केर पुरजोर समर्थन करैत क' रहल छथि। दिल्ली स' पूर्व संसद श्री महाबल मिश्र एहि अवसर पर कहलनि कि छोट - छोट राज्य सभक निर्माण सँ क्षेत्रीय विकास केर संगे - संग राष्ट्रीय विकास के गति मे तेजी आएब सकैत अछि। एहि सँ सामाजिक असंतुलन सेहो खत्म होयत। 


ओतहि जम्बू कश्मीर केँ पूर्व शिक्षा मंत्री श्री सत्यदेव सिंह कहलनि कि भाषा, लिपि, क्षेत्र, जनसंख्या आओर ऐतिहासिक पृष्ठभूमि के कारण मिथिलांचल पूर्ण राज्य बनबाक अधिकार राखैत अछि आओर ई समय केर मांग सेहो अछि। आगा ओ कि पृथक मिथिला राज्य केर मांग एहि क्षेत्रक लोग सभकेँ आर्थिक, शैक्षणिक आओर राजनीतिक आजादी के लेल जरूरी अछि

श्री सत्यदेव सिंह मिथिला राज्य केर मांग केर औचित्य पर कहलनि कि त्रेता युगक समय सँ मिथिला राज केर गौरवशाली अस्तित्व रहल अछि। राजा जनक न्याय, दर्शन आओर त्यागक लेल जानल जायत छलाह।  जगत जननी सीता क' मिथिला राज्य केर धरोहर आओर संस्कृति केँ प्रतीक बतबैत श्री सिंह कहलनि कि मिथिला केर संस्कृति, गौरव, कला आओर मर्यादा केर विश्व मे अलग पहिचान छल। स्वतंत्रता सँ पहिनो  दरभंगा राज केर अस्तित्व रहल अछि आओत एखनहुँ राजमहल सभक अवशेष ऐहिक गवाह अछि।


बिहार स' पूर्व संसद श्री भोला पासवान कहलनि कि मिथिला केँ अप्पन सभसँ पुरान भाषा मैथिली अछि जाहिक अप्पन लिपि मिथलाक्षर आइयो जीवित अछि। आगा ओ एहि क्षेत्रक उपलब्धि सभक चर्चा करैत कहलनि कि ग्यारहवीं सदी केँ मैथिली महाकवि विद्यापति केर रचना आओर मधुर गीत  आइयो देश-विदेश मे सांस्कृतिक आओर शुभ विवाह केर अवसर पर गाओल जायत अछि। हिन्दी व्याकरण केँ निर्माता पाणिणी मिथिला केँ छलाह। ऐहिक अलावा कालीदास क' ज्ञान सेहो मधुबनी स्थित सिद्धपीठ मे प्राप्त भेल छल।

दोसर दिस  अलग मिथिला राज्य केर मांग ल'के पछिला 25 बरख सँ आंदोलन क' रहल अखिल भारतीय मिथिला राज्य संघर्ष समिति केँ अध्यक्ष डॉ. अमरेंद्र झा कहलनि कि अलग मिथिला राज्य केर मांग ल'के आय 15 दिसम्बर सँ शुरू भ' रहल संसद के सत्र केर शुरुआतक दिन संसद केँ सामना धरना-प्रदर्शन कायल गेल। श्री झा दरभंगा, तिरहुत, कोशी, पूर्णियां, मुंगेर, भागलपुर आओरझारखंड केँ दुमका प्रमंडल क' मिला क' अलग मिथिला राज्य केर गठन करबाक मांग केलनि। जाहिक लेल मिथिला के अलग - अलग राजनीती आओर संगठन सभ अखिल भारतीय मिथिला राज्य संघर्ष समिति केँ समर्थन केलनि।


दरभंगा के तारडीह बीजेपी नगर निगम सदस्य केर अलावा शिशिर झा, बीजेपी नेता श्री शरत झा, लोकप्रिय कांग्रेस नेता श्री तपन झा, बीजेपी नेता श्री गोपाल झा सभ सेहो सभा क' सम्बोधित केलनि। ओतहि गायिका अंजू  झा आओर गायक सुनील पवन सेहो अप्पन सुमधुर स्वर सँ सम्बोधित केलनि। कैल्हि केँ धरना मे करीब 5000 मैथिल अप्पन मिथिलांचलक सर्वागीण विकास आओर अलग मिथिला राज्य निर्माण लेल धरना प्रदर्शन म' भाग लेलनि।