राजनितिक उठापटक के बिच राजद म' लालू यादव केर खिलाफ फूटल विरोधक स्वर - मिथिला दैनिक

Breaking

गुरुवार, 27 जुलाई 2017

राजनितिक उठापटक के बिच राजद म' लालू यादव केर खिलाफ फूटल विरोधक स्वर

पटना। 27 जुलाई। बिहार म' राजद क' 10 बरखक बाद भेटल सत्ता के  सुख समाप्त होयबाक संगे पार्टी अध्यक्ष लालू प्रसाद के विरोधक स्वर सेहो  गूंजब शुरू भ' गेल अछि। मुजफ्फरपुर के गायघाट सँ पाँचम बेर विधायक बनल महेश्वर प्रसाद यादव आए कहलनि कि लालू प्रसाद यादव पुत्र मोह म' पार्टी केँ भविष्य दांव पर लगा देलनि। आगा ओ कहलनि कि महागठबंधन म' टूट के लेल नीतीश नहि बल्कि लालू आओर कांग्रेस जिम्मेदार छथि। गठबंधन के ख़ुदक गलती सँ भाजपा नीतीश कुमार क' झपटी लेलनि।

महेश्वर प्रसाद एक मीडिया कर्मी सँ बातचीत म' दावा कएलनि कि राजद के 80 विधायक म' बेसी विधायक हुनके एहेन राय राखै बला छथि। मुदा, सच बाजबाक साहस कियो नहि क' पाएब रहल छथि। आगा ओ कहलनि  कि समय अएला पर राजद म' नवा नेता सेहो उभरत। जाहि दिन सीबीआई  के छापा पड़ल तेजस्वी यादव क' खुद इस्तीफा द' देबाक चाही रहे।

आगा ओ कहलनि कि सीबीआई के आरोप म' दम अछि। ऐहिके पूरा तरहे फुइस कोना सावित काएल जे सकैछ। साक्ष्य सभक समक्ष अछि। एहि कारण नीतीश कुमार 15 दिन धरी तेजस्वी सँ इस्तीफा के लेल द्वार - द्वार घुमैत रहला मुदा नहिये तेँ तेजस्वी इस्तीफा देलनि आओर नहिये सफाई। राजद विधायक कहलनि कि नीतीश कुमार जखन प्रण केना छथि कि हुनका मंत्रिपरिषद म' कुनु दागी नेता नहि रहता तेँ एहिमे गलत की अछि? तेजस्वी सँ इस्तीफा मांगब गलत नहि छल। नीतीश कुमार के लेल राजद-कांग्रेस के संग छोड़ब हुनकर विवशता के परिणाम अछि।