0

पटना। 21 मार्च। बिहार के परिवहन मंत्री चंद्रिका राय कहलनि कि प्रदेश मे पछिला बरख अप्रैल सँ शराबबंदी के बाद राज्य मे सड़क हादसा मे 17-20 प्रतिशत केर कमी आयल अछि। बिहार विधानसभा मे वित्तीय बरख  2017-18 के लेल परिवहन विभाग के 60.05 करोड टाकाक बजटीय मांग पर वाद - विवाद के जवाब दैत चंद्रिका राय कहलनि कि हमरा जानकारी मुताबिक पछिला साल अप्रैल मास सँ प्रदेश मे लागू शराबबंदी से सड़क हादसा मे 17-20 प्रतिशत केर कमी आयल अछि। 

आग ओ कहलनि कि सरकार के लगातार प्रयासक फलस्वरूप बरख  2015 मे सड़क दुर्घटना मे मृतक सभक संख्या जते 5421 छल ओतहि बरख 2016 मे घटिके 4867 भ' गेल। चंद्रिका राय कहलनि कि सड़क  सुरक्षा केर व्यापकता आओर महत्ता के देखैत राज्य सरकार द्वारा बिहार मोटर वाहन करारोपण अधिनियम 1994 मे संशोधन करि राज्य मे सड़क  सुरक्षाक लेल एक अलग सड़क सुरक्षा निधि केर गठन कएलनि अछि। सड़क सुरक्षा निधि नियमावलीक गठन केर प्रक्रिया अंतिम चरणमे अछि।

आगा ओ कहलनि कि सड़क दुर्घटना के एक मुख्य कारण राज्य मे प्रशिक्षित चालक सभक अभाव अछि। जाहिक लेल परिवहन विभाग द्वारा पीपीपी मोड पर औरंगाबाद जिला मे लगभग 25.15 करोड टाकाक लागत सँ एक अत्याधुनिक चालक प्रशिक्षण सह शोध संस्थान केर स्थापना कायल जे रहल अछि। संस्थान केर भवनक निर्माण काज पूरा भ' चुकल अछि। एहि संस्थान मे प्रशिक्षण के काज मारुति सुजुकी इण्डिया लिमिटेड द्वारा शीघ्रहि प्रारंंभ कायल जायत। प्रशिक्षण काज प्रारंभ भेला सँ राज्य मे प्रशिक्षित वाहन चालक उपलब्ध होयत। जाहिसे एक दिस जता सड़क दुर्घटना मे कमी होयत ओतहि दोसर दिस राज्य मे बहुत रास युवा लोकनि लेल रोजगार सृजन क' सेहो बल भेटत। 

मिथिला दैनिक क' समाचार ईमेल द्वारा प्राप्त करि :

Delivered by Mithila Dainik

मिथिला दैनिक (पहिने मैथिल आर मिथिला) टीमकेँ अपन रचनात्मक सुझाव आ टीका-टिप्पणीसँ अवगत कराऊ, पाठक लोकनि एहि जालवृत्तकेँ मैथिलीक सभसँ लोकप्रिय आ सर्वग्राह्य जालवृत्तक स्थान पर बैसेने अछि। अहाँ अपन सुझाव संगहि एहि जालवृत्त पर प्रकाशित करबाक लेल अपन रचना ई-पत्र द्वारा mithiladainik@gmail.com पर सेहो पठा सकैत छी।

 
#zbwid-2f8a1035