कानपुर रेल हादसा के पाछा ISI के हाथ, ट्रैक उड़ेबाक लेल दुबई से भेजल गेल छल फंड - मिथिला दैनिक

Breaking

बुधवार, 18 जनवरी 2017

कानपुर रेल हादसा के पाछा ISI के हाथ, ट्रैक उड़ेबाक लेल दुबई से भेजल गेल छल फंड

मोतिहारी। 18 जनवरी। बिहार पुलिस दावा केलन्हि अछि कि 20 नवंबर क' कानपुर के पुखराया लग भेल रेल हादसा ISI के साजिशक नतीजा छल। मोतिहारी के एसपी जितेंद्र राणा बतौलन्हि कि गिरफ्तार कायल गेल तीन आरोपि से ई खुलासा भेल अछि। पूछताछ से पता चलल  कि कानपुर रेल हादसा केर मास्टर माइंड दुबई मे बैस नेपालक कारोबारी शम्शुल होदा अछि। एहिलेल उवे फंडिंग केलन्हि। जांच मे पता चलल कि ई कारोबारी ISI क' सेहो फंडिंग करैत छैथ। अपने के बता दी 20 नवंबर 2016 क' भेल कानपुर ट्रेन हादसा मे पटना - इंदौर एक्स्प्रेस पटरी से उतैर गेल छल। एहिमे 150 से बसे लोगक जान गेल छल।

  • एसपी जितेंद्र राणा कहला कि मोती पासवान समेत तीन आरोपि कानपुर रेल हादसे से जुड़ल कैको खुलासा केलन्हि अछि।
  • एसपी केर मुताबिक, "शम्शुल नेपाल के बृजकिशोर गिरी उर्फ बाबा के जरिए कानपुर रेल हादसा केसाजिश रचलन्हि।"
  • मोती पासवान पुलिस क' कहलनि कि "पुखराया लग रेलवे ट्रैक क' बम लगा उड़ाओल गेल छल। ऐहिक चलते 20 नवंबर के भोर पटना - इंदौर एक्सप्रेस पुखराया लग हादसा केर शिकार भेल छल।"
  • मोती पासवान कहलनि कि, "एहि साजिश मे कारोबारी शम्शुल के  भतीजा जियाउल हक आर एक आन व्यक्ति सेहो शामिल छला। हुनका संग  राकेश यादव, गजेंद्र यादव आर बृजकिशोर गिरी के अलावा किछ लोग पूर्वी चंपारण से आयल छाला।"
  • इये ग्रुप पूर्वी चंपारण के घोड़ासहन मे सेहो अक्टूबर में IED लगा पैसेंजर ट्रेन उड़ेबाक कोशिस केना छल।