0
दिल्ली। 19 सितंबर। आरजेडी के पूर्व सांसद शहाबुद्दीन केर जमानत पर रोक लगेबा सँ इंकार करैत, सुप्रीम कोर्ट शहाबुद्दीन क' नोटिस जारी केलनि अछि। नोटिस म' शहाबुद्दीन सँ पुछल गेल अछि कि हुनकर जमानत किएक नै रद्द कायल जाए? अगला सुनवाई सोमवार दिन होयत। अपने क' बता दी कि शहाबुद्दीन केर जमानत खारिज करबाक लेल बिहार सरकार सुप्रीम कोर्ट गेल छल। ओतहि दोसर याचिका तीन बेटा गवां चुकल सीवान केँ चंदा बाबूक छल।

दुनु याचिका म' कहल गेल छल कि शहाबुद्दीन क' जेल सँ बाहर रहब ठीक नै अछि। पटना हाई कोर्ट शुहाबुद्दीन क' जमानत देबा म' कैको जरूरी बात सभक ध्यान नै राखलनि। ऐना म' जमानत रद्द करि हुनका फेर सँ जेल भेजल जाय। चंदा बाबू के दुइ बेटा तेजाब कांडक शिकार बनल छल। तेसर  बेटा, जे घटना केँ चश्मदीद गवाह छल, हुनक सेहो हत्या भ' गेल छल। हुनकर हत्या केर आरोप शहाबुद्दीन पर लागल छल। 7 सितंबर के' हाई कोर्ट सँ जमानत भेटलाक बाद शहाबुद्दीन 11 साल बाद जेल सँ बाहर आयल छैथ। 

मिथिला दैनिक क' समाचार ईमेल द्वारा प्राप्त करि :

Delivered by Mithila Dainik

मिथिला दैनिक (पहिने मैथिल आर मिथिला) टीमकेँ अपन रचनात्मक सुझाव आ टीका-टिप्पणीसँ अवगत कराऊ, पाठक लोकनि एहि जालवृत्तकेँ मैथिलीक सभसँ लोकप्रिय आ सर्वग्राह्य जालवृत्तक स्थान पर बैसेने अछि। अहाँ अपन सुझाव संगहि एहि जालवृत्त पर प्रकाशित करबाक लेल अपन रचना ई-पत्र द्वारा mithiladainik@gmail.com पर सेहो पठा सकैत छी।

 
#zbwid-2f8a1035