रुबाई - मिथिला दैनिक

Breaking

गुरुवार, 5 नवंबर 2015

रुबाई

राति बीतल जाइए
मोन तीतल जाइए
हारि बैसल छी हिया
प्रेम जीतल जाइए