4



आहा के हँसब कमाल रहे साथी !
हमरा आहा पर मलाल रहे साथी !!

दाग चेहरा पर दे गेलो आहा !
हम त सोच्लो गुलाब रहे साथी !!

रैत मs आबई अछि अहि के सपना !
दिन मs अहिके ख्याल रहे साथी !!

उइड़ गेल निंद हमर रैत के !
आहा'क एहने सवाल रहे साथी !!

करै लए गेल छलो दिलक सौदा !
कियो आयल छलैथ दलाल साथी !!

आहा के हँसब कमाल रहे साथी !
हमरा आहा पर मलाल रहे साथी !!

मिथिला दैनिक क' समाचार ईमेल द्वारा प्राप्त करि :

Delivered by Mithila Dainik

  1. bus etbe kahab je ahanke kaita bahut kamaal rahl saathi paidh ka hum ta nihal bhailoun sathi. likhait rahoo.

    उत्तर देंहटाएं
  2. आत्मासँ हृदयसँ लिखल एहि ब्लॉगक सभ पद्य हृदयकेँ छुबैत अछि।

    গজেন্দ্র ঠাকুব

    उत्तर देंहटाएं
  3. आहा के हँसब कमाल रहे साथी !
    हमरा आहा पर मलाल रहे साथी !!

    दाग चेहरा पर दे गेलो आहा !
    हम त सोच्लो गुलाब रहे साथी !!

    रैत मs आबई अछि अहि के सपना !
    दिन मs अहिके ख्याल रहे साथी !!

    उइड़ गेल निंद हमर रैत के !
    आहा'क एहने सवाल रहे साथी !!

    करै लए गेल छलो दिलक सौदा !
    कियो आयल छलैथ दलाल साथी !!

    आहा के हँसब कमाल रहे साथी !
    हमरा आहा पर मलाल रहे साथी !!
    kamal chhi ahan jitu ji

    उत्तर देंहटाएं
  4. ee blog samanya aa gambhir dunu tarahak pathakak lel achhi, maithilik bahut paigh seva ahan lokani kay rahal chhi, takar jatek charchaa hoy se kam achhi.

    dr palan jha

    उत्तर देंहटाएं

मिथिला दैनिक (पहिने मैथिल आर मिथिला) टीमकेँ अपन रचनात्मक सुझाव आ टीका-टिप्पणीसँ अवगत कराऊ, पाठक लोकनि एहि जालवृत्तकेँ मैथिलीक सभसँ लोकप्रिय आ सर्वग्राह्य जालवृत्तक स्थान पर बैसेने अछि। अहाँ अपन सुझाव संगहि एहि जालवृत्त पर प्रकाशित करबाक लेल अपन रचना ई-पत्र द्वारा mithiladainik@gmail.com पर सेहो पठा सकैत छी।

 
#zbwid-2f8a1035