नवनिर्मित सारण बांध के टुटबाक खतरा बढ़ल, प्रशासन पर लापरवाही केर आरोप - मिथिला दैनिक

Breaking

मंगलवार, 12 सितंबर 2017

नवनिर्मित सारण बांध के टुटबाक खतरा बढ़ल, प्रशासन पर लापरवाही केर आरोप

गोपालगंज। 12 सितम्बर। गोपालगंज म' ग्रमीण सभके बाढ़ि आओर कटाव केर दोहरा माइर पड़ी रहल अछि। ओतहि, गंडक नदी के जलस्तर म' आयल कमी केर बावजूद नवनिर्मित सारण बांध केर टुटबाक खतरा बढ़ी गेल अछि। जाहिक कारण स' लोग सभ दहशत म' छथि।

जल संसाधन विभाग बांध क' बचेबाक लेल दिन-राति एक केना अछि। बाढ़िक कारण भसही गाम केर अस्तित्व समाप्त भेलाक बाद सारण बांध पर कटाव निरोधक काज कराओल जे रहल अछि। ओतहि, जखन सारण बांध स' गंडक नदी केर दूरी कैको सौ मीटर छल, तखन ग्रामीण सभ जल संसाधन विभाग सँ ल'क' जिला प्रशासन तक मदैद लेल गुहार लगौना छल। मुदा ग्रामीण सभक गुहार काज नहि आयल आओर हजारों एकड़ म' लागल कुसियारक फसल आओर खेत गंडक म' विलीन भ' गेल।

जखन एक सप्ताह म' गंडक के पैन तटबंध लग पहुंच गेल आओर सारण बांध म' कटाव शुरू भेल, तखन अधिकारी सभ द्वारा बोल्डर पिचिंग, प्रोकोपाइन आओर पत्थर के ठोकर बना कटाव निरोधी काज कराओल जे रहल अछि। विभागीय लापरवाही ल'क' गंडक दियारा संघर्ष समिति भसही गाम लग बांध पर सात दिन धरी धरना देलनि आओर अप्पन विरोध प्रकट केलनि। स्थानीय लोग सभ बांध बचाव काज युद्धस्तर पर नहि होयबा पर  उग्र प्रदर्शन केर धमकी देना छथि।