दहेज बला बियाह मे नहि करि शिरकत : मुख्यमंत्री नीतीश कुमार - मिथिला दैनिक

Breaking

बुधवार, 12 अप्रैल 2017

दहेज बला बियाह मे नहि करि शिरकत : मुख्यमंत्री नीतीश कुमार

मुजफ्फरपुर। 12 अप्रैल। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार लोग सभसँ दहेज लेबै बला बियाह मे शिरकत नहि करबाक अपील कएलनि अछि। नीतीश कुमार कहलनि एहितरहक बियाह मे शामिल नहि होबाक चाही। नीतीश कुमार कैल्ह  मंगल दिन लंगट सिंह (एलएस) कॉलेज परिसर मे चंपारण सत्याग्रह स्मृति वर्ष, 2017 के संबोधित करबाक दरमियान ई गप कहला।
 
नीतीश कुमार कहलनि कि राज्य मे पूर्ण शराबबंदी, फेर नशाबंदी आओर आब दहेजबंदी लागू करबाक अछि। चंपारण सत्याग्रह के सौवा बरख मे बापू के इए सच्चा श्रद्धांजलि होयत। बाल बियाह केँ रोकबाक लेल सख्त डेग उठेबाक जरुरत अछि।

एहि मौका पर मुख्यमंत्री 2019 मे महात्मा गांधी के 150वीं जयंती पर देश मे पूर्ण शराबबंदी लागू करबाक मांग कएलनि। कहलनि कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ऐहिक लेल एखने सँ तैयारी करैथ, तखन 2019 तक ई संभव भ' सकत। प्रधानमंत्री एहेन राज्य सँ छथि, जते राज्यक स्थापना काल से शराबबंदी लागू अछि।

नीतीश कुमार नेशनल हाइवे आओर स्टेट हाइवे पर सुप्रीम कोर्ट द्वारा शराबबंदी लेल देल गेल रोक क' केंद्र सरकार सँ सख्ती से लागू करबाक आग्रह कएलनि। मुख्यमंत्री बिहार सरकार केर उपलब्धि गनबैत केंद्र सरकार आओर प्रधानमंत्री पर निशाना साधलनि। ओ कहलनि कि जे हम कहैत छी, क'के देखबैत छी, मुदा बहुत लोग कहैत बहुत छथि पर करैत किछु नहि छथि। 

बकौल नीतीश, प्रधानमंत्री सँ हमर आग्रह अछि कि किछु राज्य शराबबंदी पर सुप्रीम कोर्ट केर आदेशक बाद स्टेट हाइवे क' डिनोटिफाइ करि परिवर्तित करबामे जुइट गेल अछि। एहि पर तत्काल रोक लगेबाक चाहि। केंद्र सरकार हस्तक्षेप करे। सुप्रीम कोर्ट केर आदेशक बाद एहेन तिकड़म लगबै बला पर सख्त कार्रवाई होबाक चाही।

नीतीश कुमार बिहार मे पूर्ण शराबबंदी के बाद सड़क दुर्घटनाक संख्या मे आएल कमी केर चर्चा सेहो कएलनि। शराबबंदी के बाद प्रदेश क' भेल लाभ सँ संबंधित उपलब्धि गनौलनि। ओ इशारा - इशारा मे विपक्ष केर खूब खबैर लेलनि। कहलनि कि पूर्ण शराबबंदी कानून क' तालिबानी कानून बतबै बला के आब बोलती बंद भ' गेल छैन्ह।