0
दिल्ली। 15 नवम्बर। नोटबंदी सँ लोग सभ क' भ' रहल भारी परेशानी क' देखैत सरकार राहत पहुँचेबाक लेल 'युद्ध स्तर' पर काज क' रहल अछि। कैल्ह एक दिनक छुट्टी केँ बाद आय मंगलवार क' जखन बैंक खुजत तेँ लोग सभ क' कैको सहूलियत भेटतैन्ह। आय से एटीएम सँ 2000 केर नोट भेटब शुरू भ' जायत। देश के सबसे पैघ बैंक एसबीआई ऐलान केलन्हि कि बहुत जल्द एसबीआई केर एटीएम स' 50 टक्का आर 20 टक्का केँ नोट भेटब शुरू भ' जायत।

आय से एटीएम सँ 2000 केर नोट भेटब शुरू भ' जायत। हालांकि सभ एटीएम से 2000 के नोट नहि निकलत, जाहि एटीएम क' नवा नोट के हिसाब से एडजस्ट  कायल जे चुकल अछि ओहि सँ नवा नोट निकलत। एहि तरहक एटीएम केर संख्या तेजी सँ बढाओल जे रहल अछि। एहि तरहे खुल्ला केर समस्या से सेहो राहत भेटबाक उम्मीद अछि किएक जे  एसबीआई के एटीएम सँ बहुत जल्द 50 आर 20 टक्का केर नोट भेटब शुरू भ' जायत।

आय सँ बढाओल जेत विद्ड्रॉल लिमिट। विभिन्न कैटिगरी केर विद्ड्रॉल लिमिट क' बढ़ा देल गेल अछि। आय से लोग सभ एटीएम सँ 2500 टक्का निकैल सकता, हालांकि ओहि एटीएम से जाहीकेँ नवा नोट के मुताबिक तैयार कायल गेल अछि। पुरनका नोट बदलबाक सीमा सेहो 4000 सँ बढ़ा केँ 4500 क' देल गेल अछि। ओतहिबैंक से एक सप्ताह म' 24 हजार टक्का  निकालल जे सकत। पहिने इ सीमा 20,000 टक्का के छल। 3 महीना से पुरान करंट अकाउंट्स बला कारोबारी इकाइ सभक लेल विद्ड्रॉल लिमिट बढ़ा क' 50,000 टक्का देल गेल अछि ताकि ओ वेतन द' सकैथ। पुरनका  नोट क' किछ जगह पर उपयोग करबाक डेडलाइन बढ़ा क' 24 नवंबर क' देल गेल अछि। अस्पताल, पेट्रोल पंप, रेलवे स्टेशन आर हवाई अड्डा पर सेहो 24 नंवबर तक पुरनका नोट चलत। आय से बैंक आर एटीएम के बाहर जमा भेल भीड़ म' बुजुर्ग आर दिव्यांग सभक लेल अलग लाइन होयत।

ग्रामीण आर अर्द्ध-शहरी इलाका म' कैश केर उपलब्धता सुनिश्चित करबाक लेल सरकार वायुसेना केर मदद ल' रहल अछि। शहरी इलाका म' कैश तुरंत पहुंच जायत अछि मुदा ग्रामीण इलाका म' सड़क के रास्ते कैश पहुंचेबा म' काफी वक्त लगैत अछि,  इसलिए वायुसेना के हेलिकॉप्टर केर मदद सँ ग्रामीण इलाका म' कैश पहुचाओल जे रहल अछि।

आरबीआई द्वारा एटीएम धारक क' बड़का राहत देल गेल अछि। आरबीआई 30 दिसंबर तक एटीएम ट्रांजैक्शन पर कुनु तरहक चार्ज नहि लेबाक आदेश देना अछि। सरकार तय केना अछि कि नैशनल हाइवेज केर टोल प्लाजा पर 18 नवंबर तक कुनु शुल्क नहि लेल जायत। सभ एयरपोर्ट्स पर 21 नवंबर तक पार्किंग फ्री अछि। 

मिथिला दैनिक क' समाचार ईमेल द्वारा प्राप्त करि :

Delivered by Mithila Dainik

मिथिला दैनिक (पहिने मैथिल आर मिथिला) टीमकेँ अपन रचनात्मक सुझाव आ टीका-टिप्पणीसँ अवगत कराऊ, पाठक लोकनि एहि जालवृत्तकेँ मैथिलीक सभसँ लोकप्रिय आ सर्वग्राह्य जालवृत्तक स्थान पर बैसेने अछि। अहाँ अपन सुझाव संगहि एहि जालवृत्त पर प्रकाशित करबाक लेल अपन रचना ई-पत्र द्वारा mithiladainik@gmail.com पर सेहो पठा सकैत छी।

 
#zbwid-2f8a1035