गद्य कविता - मिथिला दैनिक

Breaking

बुधवार, 14 दिसंबर 2011

गद्य कविता



संबंध


नेता हो तँ अफजल जकाँ जे संसदकेँ नीक लगैए। अभिनेता हो तँ संसद जकाँ जे वास्तविकताकेँ नुकबैए।